पड़ोसन की जवान बेटियाँ

आगरा से ट्रांसफर होकर जब मैं कानपुर आया तो मैंने कानपुर में जो मकान किराये पर लिया. मेरे मकान के ठीक सामने गुप्ताइन का घर था. गुप्ताइन लगभग 45 साल की थी लेकिन अच्छी मेन्टेनेंस और सजी संवरी रहने के कारण लगभग 40 साल की लगती थी. गुप्ता जी किसी बैंक में मैनेजर थे. hot indian sex

एक 20-22 साल का बेटा था जो ग्रेजुएशन करके नौकरी की तलाश में था और एक बेटी थी, करीब 18 साल की, इन्टर में पढ़ती थी.

Bookmark for Hot Indian Sex Kahani

मैं जब से इस मुहल्ले में आया था, दिल गुप्ताइन पर फिदा था, किसी भी तरह उसको चोदने का रास्ता तलाश करना था.

hot indian sex storiesजहां चाह वहां राह.

एक दिन सुबह कहीं जाने के लिए कार निकाल रहा था तो देखा कि गुप्ताइन की लड़की डॉली छाता लेकर खड़ी थी और गुप्ता जी स्कूटर निकाल रहे थे.

बूंदाबांदी हो रही थी, मैंने गुप्ता जी से पूछा- सर सुबह सुबह कहाँ?

गुप्ता जी बोले- डॉली का एग्जाम है, स्कूल तक छोड़ने जा रहा हूँ.

मैंने कहा- मैं उधर ही जा रहा हूँ, छोड़ दूँगा.

थोड़ी नानुकुर के बाद उन्होंने डॉली को मेरे साथ भेज दिया.

Bookmark for Hot Indian Sex Kahani

शाम को गुप्ताइन से नजरें मिलीं तो लगा कि बिना बोले थैंक्स कह रही हो.

इसी तरह तीन चार बार ऐसा हुआ कि मैंने डॉली को उसके स्कूल ड्राप किया.

इससे गुप्ताइन तो खुश हो रही थी लेकिन मेरे मन में एक नया विचार पनप गया कि यदि डॉली को चोदने का मौका मिले तो क्या कहने.

हालांकि डॉली कोई बहुत खूबसूरत लड़की नहीं थी. दुबला पतला शरीर, सांवला रंग, पांच फीट छह सात इंच का लम्बा कद.

दो चीजें बड़ी आकर्षक थीं, बोलती आँखें और मुस्कुराते होंठ.

अब मेरा टारगेट बदल चुका था.

तभी एक दिन बातों बातों में गुप्ता जी ने बताया कि शनिवार को डॉली का एक पेपर लखनऊ में है, मुझे उसको लेकर जाना पड़ेगा.

Bookmark for Hot Indian Sex Kahani

मैंने तुरन्त कहा- शनिवार को तो मैं लखनऊ जा रहा हूँ, दो घंटे का काम है.

इसको इसके सेन्टर पर ड्राप कर दूंगा और अपना काम निपटा कर वापसी में से इसको ले लूंगा.

गुप्ता जी इतना बड़ा एहसान लेने को तैयार नहीं थे लेकिन धीरे धीरे मान गये.

अब मैं डॉली को चोदने की अपनी योजना बनाने में लग गया.

तय कार्यक्रम के अनुसार शनिवार को सुबह सात बजे मैं और डॉली लखनऊ के लिए निकल पड़े, रास्ते में चाय नाश्ता करने के बाद लगभग नौ बजे डॉली के सेन्टर पहुंच गये.

वहां पहुंच कर डॉली ने मेरे फोन से ही गुप्ताइन को पहुंचने की सूचना दी.

Bookmark for Hot Indian Sex Kahani

साढ़े नौ बजे वह अन्दर चली गई, उसकी छुट्टी एक बजे होनी थी.

मैं वहाँ से निकला, अच्छे से होटल में एक कमरा बुक किया, अपना बैग रखकर थोड़ी देर आराम किया और डॉली को लेने के लिए उसके सेन्टर पहुंच गया.

डॉली बाहर आई, कार में बैठी तो मैंने पूछा- पेपर कैसा हुआ?

तो खुशी से उछलकर बोली- बहुत अच्छा.

मैंने कहा- बहुत भूख लगी है, पहले खाना खा लें.

एक अच्छे से रेस्टोरेन्ट में खाना खाया.

खाने के दौरान मैंने उसको बताया कि मेरा काम नहीं हो पाया है, शाम तक हो गया तो ठीक है वरना रात को रुकना पड़ेगा.

Bookmark for Hot Indian Sex Kahani

यहां मेरी दीदी रहती हैं, उनके घर रुक जायेंगे.

मेरे कहने पर उसने यही बात गुप्ताइन को बता दी.

अब मैंने डॉली से कहा- चार घंटे का समय कैसे गुजरेगा, चलो पिक्चर देखते हैं.

कंजूस गुप्ता जी के मुकाबले मेरा राजसी खर्च देखकर डॉली खुश भी थी और प्रभावित भी.

हम लोगों ने पिक्चर देखी, खाया पिया और वहीं मॉल से मैंने डॉली को एक अच्छी सी मिडी फ्राक दिला दी.

शाम के सात बज चुके थे. मैंने एक फर्जी कॉल की,

थोड़ी देर बात करने के बाद डॉली को बताया कि रात को रुकना पड़ेगा, चलो दीदी के घर चलते हैं, तुम अपनी मम्मी को बता दो.

Bookmark for Hot Indian Sex Kahani

डॉली ने गुप्ताइन को बताया, इसी बीच मैंने फोन ले लिया और गुप्ताइन को तसल्ली दे दी कि कल बारह बजे तक हम लोग वापस पहुंच जायेंगे.

अब मैंने डॉली से कहा- मैं सोच रहा हूँ कि दीदी लखनऊ के दूसरे सिरे पर रहती हैं, उनके यहाँ इतनी दूर जाने से अच्छा है कि यहीं आसपास किसी होटल में रुक जायें, होटल में रहने का मजा ही कुछ और है.

डॉली क्या इन्कार करती.

मैंने गाड़ी होटल की तरफ मोड़ दी, कमरे में पहुंच कर मैंने पूछा- कमरा कैसा है?

आँखें मटका कर बोली- बहुत सुन्दर.

खाना पीना खाकर आये थे, बस सोना ही था. मैंने फ्रिज से कोकाकोला की बोतल निकाली, उसमें मैंने व्हिस्की मिला रखी थी, दो घूंट पीने के बाद बोतल डॉली को दे दी, दो तीन घूंट पीकर उसने मुझे दे दी, इस तरह कोकाकोला की बोतल हम दोनों ने खाली कर दी, दो दो पेग अन्दर जा चुके थे.

Bookmark for Hot Indian Sex Kahani

अब मैंने उसके लिए खरीदी हुई फ्राक उसको दी और कहा- नहा लो और यह पहनकर दिखाओ कैसी लगती है.
थोड़ी देर में वो नहाकर आ गई, मैंने उसकी तारीफ की और नहाने चला गया.

नहाकर अपने साथ लाई हुई टी शर्ट व लोअर पहनकर कमरे में आया तो वो सो चुकी थी.

मैं भी उसके बगल में लेट गया.

फ्राक की बैक पर लगी चेन खोलकर मैंने उसकी फ्राक उतार दी, फिर ब्रा और पैंटी.

अब डॉली मेरे सामने बिल्कुल नंगी लेटी हुई थी लेकिन इस हाल में चोदने में कोई मजा नहीं था.

मैंने कमरे की लाइट बंद की, चादर ओढ़ ली और डॉली को भी चादर में ले लिया.

Bookmark for Hot Indian Sex Kahani

संतरे जैसी छोटी छोटी चूचियां मैंने धीरे धीरे मसलनी शुरू कीं, थोड़ी देर में निपल्स टाइट होने लगे, अब मैंने एक चूची मुंह में ले ली और हल्के हल्के से चूसने लगा.

एक हाथ डॉली की चूत पर रखकर मैं सहलाने लगा.

बारी बारी से दोनों चूचियों को चूसते और चूत को सहलाते सहलाते आधा घंटा हुआ तो डॉली की नींद खुली या यूं कहें कि उसे होश आया, बोली- अंकल बहुत नींद आ रही है.

मैंने अपनी उंगली उसकी चूत में डालकर हौले हौले अन्दर बाहर करते हुए कहा- आज की रात सोने के लिए नहीं है.

चूचियां चूसने में कुछ सख्ती और चूत में उंगली अन्दर बाहर करने की रफ्तार बढ़ी तो उसको मजा आने लगा.

अब मैं उठा बाथरूम गया, पेशाब करके आया और चुपचाप लेट गया. एक मिनट ही बीता था कि डॉली खिसककर मेरे पास आई और अपना हाथ मेरे सीने पर फेरने लगी, थोड़ी देर में उसने मेरा हाथ पकड़कर अपनी चूत पर रख दिया.

Bookmark for Hot Indian Sex Kahani &

मैं समझ गया कि लोहा गर्म है. मैंने फिर से उसकी चूची मुंह में ले ली और उसकी चूत सहलाने लगा और उसका हाथ पकड़कर अपने लंड पर रख दिया.

वो लोअर के ऊपर से ही मेरा लंड सहलाने लगी.

कहानी जारी है……….



"stories of sex""sexi kahani""holi chudai""xxx stories indian""indian sexy story in hindi""mast chudai""free hindi sexy kahaniya""sex stiries""sexi kahani""sexi hindi kahani com""bhabhi ki chudai story""antravasna story"antervasn"indian sex hindi""saali ki chudai""my hindi sex story""mastram ki sex kahani""hindi sexsi khani"antrvasana"meri cudai""idian sex""hindi cudai ki kahani""group sex story in hindi""gaand chudai""desi sexy kahani""incest stories in hindi"sexistoryinhindiअन्तरवासनाhindisexkahaniya"chudai ki desi kahani""gandi sex story in hindi""indian sex stories""indian sex stories net""indiam sex stories"desibhabi"sexy sex stories""sex kahaniyan""bua ki chudai""ladki ki chudai kahani"m.desikahani/net"porn sex stories"anterwasana"sexy stories hindi""antarvasna desi""desi sex story"mastramnet"indian srx stories""hindi desi sex""naukrani sex""chechi sex""www.hindi sex""hindi sex stores""sexi hindi kahani com""हिन्दी सेक्स कथा""kahani chudai ki""chacha ne choda"jizyaantravasnadesikahani"boor chudai""sister sex stories""hindi sx story""bhai se chudi""porn story in hindi""cudai ki kahani""भाभी की चुदाई""sexi bhabhi""gaon ki chudai""sex chudai""सेक्स कहानी"naukranichudaikahani"ma ki chudai""hindi sex story""samuhik chudai ki kahani""free desi sex""odia sex story""mummy ki chudai story"