भाभी को उसी के घर में चोदा

Bhabi ko ghar pe choda – हैल्लो दोस्तों, आज मैं आप लोगो को अपनी लाइफ कि एक बहुत अच्छी स्टोरी बताने जा रहा हूँ | आप सभी को मेरी यह स्टोरी पढ़कर बहुत मजा आयगा | दोस्तों अब में अपनी स्टोरी पर आता हूँ |
दोस्तों में कटंगी का रहने वाला हूँ | मेरा नाम महेन्द्र असाटी है और मेरी उम्र 26 साल है, और लम्बाई 5 फुट 6 इंच है | मैं भोपाल पर एक छोटी सी प्राइवेट जॉब करता हूँ | मेरा पूरा परिवार कटंगी में ही रहता है मेरे परिवार में मेरे भाई बहन, मम्मी पापा और दादा दादी है |

दोस्तों जब में 18 साल का था तो मेरे घर के सामने वाले घर में एक भैया और भाभी किराये से रहते थे | वो लोग कटनी के रहने वाले थे और वो लोग हम लोग से अच्छे से बात करते थे | हम लोगो के व्यव्हार घर जेसे हो गये थे | भैया की नौकरी यही कटंगी में लगी हुई थी इसलिए वो यही किराये से रहते थे | भैया से मेरी बहुत अच्छी दोस्ती हो गई थी | उनका नाम अमित था और भाभी का नाम सोनिया था और भाभी बहुत सुंदर थी, देखने में मस्त माल दिखती थी उनके दूध बहुत बड़े बड़े थे | वो मुझे बहुत अच्छी लगती थी और जब भी मैं अमित भैया के साथ उनके घर जाया करता था तो में हमेशा सोनिया भाभी को लाइन मारा करता था और देखता रहता था | सोनिया भाभी मुझसे बहुत अच्छे से बात करती थी | सोनिया भाभी अमित भैया के सामने भी खुल कर मुझसे बात करती थी | मैंने तो सोच ही लिया था कि सोनिया भाभी को किसी भी हालत में पटाना है और सोनिया भाभी को चोदना है |

अमित भैया रोज सुबह जल्दी नौकरी में चले जाते थे और शाम को घर आते थे | मैं रोज सोनिया भाभी को लाइन मारा करता था | सोनिया भाभी रोज शाम को छत पर आती थी और मैं भी अपने छत पर जाकर उनको लाइन मारा करता था | मैं जब उनको लाइन मारा करता था तो वो मुझे देखकर बहुत मुस्कुरयता करती थी|….. सोनिया भाभी मेरे घर आती रहती थी मम्मी के पास और हमेशा साड़ी पहन कर आया करती थी | वो साड़ी में बहुत मस्त लगती थी उनके ब्लाउज के ऊपर से उनके बड़े बड़े दुध दिखते रहते थे और उस समय सोनिया भाभी के दूध को देख कर मेरा लंड हमेशा खड़ा हो जाता था  और सोनिया भाभी को चोदने का बहुत मन करता था |

मैं सोनिया भाभी से बहुत ही ज्यादा मजाक करता था | वो कभी बुरा नहीं मानती थी और फिर उसके बाद सोनिया भाभी का एक दिन मोबाइल खराब हो गया था | तो अमित भैया ने मुझे सोनिया भाभी का मोबाइल बनवाने के लिए कहा | उन्हें कुछ भी घर का काम होता था  तो वो मुझसे बोल देते थे क्योकि वो दिन में अपनी नौकरी पर चले जाते थे | ……फिर उसके बाद में सोनिया भाभी के पास मोबाइल बनवाने के लिए मोबाइल लेने गया और जब में उनके घर गया तो सोनिया भाभी ने मेक्सी पहनी हुई थी वो घर पर अधिकतर मैक्सी ही पहनी रहती थी | और उनकी मैक्सी के उपर से दूध दिख रहे थे मेरी नजर उनके दूध में ही थी और लग रहा था कि भाभी को अभी पलंग पर लेटा कर चोद डालू वो मुझे देख कर बहुत मुस्कुरा रही थी …..

फिर उसके बाद मैंने भाभी से मोबाइल माँगा फिर उन्होंने मुझे मोबाइल लाकर दिया और जब मैंने भाभी से पूछा कि भाभी क्या हो गया आपके मोबाइल को तो सोनिया भाभी मेरे पास आकर मेरे बाजू में मुझसे चिपक कर बैठ गई और बताने लगी कि ये मोबाइल अपने आप बंद हो गया है चालू ही नहीं हो रहा | वो मुझे देख कर स्माइल कर रही थी और में भी उनको लाइन मार रहा था | ……उस समय मुझे ऐसा लग रहा था कि भाभी मुझसे पटने वाली है अब ….. फिर उसके बाद भी स्माइल करते हुए मैंने सोनिया भाभी से कहा ठीक है भाभी मैं आपका मोबाइल अभी बनवा कर लाता हूँ | फिर वो भी मुझसे मुस्कुरा कर बोली ठीक है जल्दी जाओ और मोबाइल बनवा कर लाओ | फिर उसके बाद मैं मोबाइल बनवाने चला जाता हूँ |…..और फिर जब मैं दो या तीन घंटे बाद जब मोबाइल बन जाता है तो मैंने मोबाइल लेकर भाभी को देने के लिये जाता हूँ |

Chodai story मेरी पहली सुहागरात पड़ोस वाली भाभी के साथ

फिर जब मैं भाभी को मोबाइल देता हूँ तो वो स्माइल करने  लगती है और मुझसे कहती है कि इतने जल्दी तुमने मुझे मोबाइल बनवा कर लाके दे दिया |….. फिर उसके बाद वो मुझे बैठने के लिए बोलती है और मुझे बेठा कर कर मेरे लिए चाय बना कर लाती है…..और फिर से आकर मेरे बाजू में बेठ गई और मुझसे बाते करने लगी ……..उस समय तो मेरा लंड खड़ा हो गया था  और बिलकुल सब्र नहीं हो रहा था बस भाभी को चोदने का मन कर रहा था |……फिर उसके बाद भाभी मुझे मुस्कुरा कर मुझसे पूछने लगी कि महेन्द्र तुम मुझे इतना लाइन क्यों ,मारते हो बताओ ……यह बात सुनकर तो मुझे पूरा यकीन हो गया था कि भाभी मुझसे पटने वाली है और फिर तो मैंने सोच ही लिया था कि आज भाभी को किसी भी तरीके से पटा लूँगा …… फिर मैं भी भाभी से सीधे मुस्कुराते हुए कह देता हूँ  कि में आपको इसलिए लाइन मारता हूँ कि आप मुझे बहुत अच्छी लगती हो |

यह बात जब में भाभी से कहता हूँ तो यह बात सुनकर बिलकुल भी गुस्सा नहीं होती है और भाभी मुझसे और चिपक कर बेठ जाती है उसके बाद मुझे भी भाभी कि हरकतों को देख कर ऐसा लग रहा था कि भाभी भी मुझसे चुदना चाहती है | उस समय भाभी मेक्सी पर ही रहती है और उनके पूरे दूध दिखते रहते है  ……उसके बाद मुझसे बिलुकुल भी सब्र नहीं होता है……. और मैं भाभी के दूध  को दबाने लगता हूँ  और जेसे ही में उनके दूध को दबाता हूँ तो भाभी जोर जोर से हसने लगती है | और मुझसे कहने लगती है कि कि तुम क्या कर रहे हो | और फिर उसके बाद में सीधे सोनिया भाभी से कह देता हूँ  कि भाभी मुझे आपको चोदने का मन कर रहा है  और में आपको चोदना चाहता हूँ | यह बात सुनकर भाभी सीधे अपनी मैक्सी की पूरी चेन खोल देती है उनके पूरे दूध दिखने लगते है |

में तुरंत उनके दूध को पीने लगता हूँ और सोनिया भाभी मेरे जीन्स के पेन्ट के अंदर हाथ डाल कर मेरे लंड को अपने हाथो से पकड़कर हिलाने लगती है और में उनके दूध को पी रहा था | उनके दुध बहुत ही मस्त थे और इतने गोरे थे कि मैं उनके दूध को पिए जा रहा था और उनके दूध पीने में बहुत मजा आ रहा था | भाभी मेरे लंड को अपने हाथो से हिलाय जा रही थी फिर उसके बाद मैं भाभी कि मैक्सी उतार देता हूँ उनको पूरा नंगा कर देता हूँ और भाभी  मेरी टी-शर्ट उतार देती है  और जीन्स भी उतार देती है  और मेरे लंड को अपने हाथो से पकड़कर अपनी चूत पर डालने लगती है |

फिर उसके बाद मैं भाभी को पलंग पर लेटा कर अपने लंड को उनकी चूत पर डालता हूँ और चोदने लगता हूँ | भाभी को बहुत मजा आ रहा था | वो आःह आह्ह आह्ह्ह  करते जा रही थी और मैं भाभी को उनकी टांग उठा उठा कर चोद रहा था | भाभी मुझसे बहुत प्यार से चुद रही थी | मुझे और भाभी को उस समय बहुत मजा आ रहा था लेकिन चोदते चोदते बहुत टाइम हो जाता है और भैया का घर आने का समय हो जाता है | फिर उसके बाद भाभी मुझसे बहुत खुश हो जाती है और मेरा मोबाइल नंबर मुझसे ले लेती है  और फिर भैया के घर आने से पहले मैं अपने घर चला जाता हूँ और फिर उसके बाद मैं और सोनिया भाभी भाभी फ़ोन पर बात करते रहते थे और हमेशा जब भी अमित भैया काम पर चले जाते थे तो भाभी मुझे  फ़ोन लगाकर अपने घर बुलाया करती थी और चुदा करती थी ..

और में भी हर दम उनके घर जाकर चोदता था | फिर उसके बाद जब  एक दिन मैं भाभी को जब चोदे रहा था तो पता चला कि भाभी प्रेगनेन्ट हो गई है | भाभी बहुत डर जाती है कि कही भैया को पता न चल जाय …..फिर मैं भाभी को किसी भी तरीके से डॉक्टर के पास लेकर जाता हूँ और उनका बच्चा गिरवा देता हूँ फिर उसके बाद सब कुछ ठीक हो जाता है  और फिर भाभी खुश हो जाती है | और फिर भी उसके बाद जब भी जब मेरा मन उनको चोदने  का करता था तो भाभी हमेशा मुझसे चुदने के लिए तैयार रहती थी |  पर फिर एक दिन मुझे भाभी  ने मुझे बताया कि अमित भैया का ट्रान्सफर हो रहा है तो ये खबर सुन कर मैं बहुत दुखी हो जाता हूँ और एक लास्ट बार भाभी को चोदने के लिए जाता हूँ तो भाभी मुझे मना कर देती हैं पर अभी भी मैं भाभी के नाम की मुठ मरता हूँ |



"didi ki gand""sexx stories""sexy story in hindi""sec stories""nangi chudai""sex kahani""sexy hindi kahani""new sex stories""indian sexstories.net""saas ko choda""sex with mami""sexi kahani""hindi sex stories.com"sex.stories"chut chudai story""bahen ki chudai""sex khahani hindi""desi chudai""porn story in hindi"antervashana"सेक्स स्टोरीज"indiansexstories"antarvasna hindi sexy kahaniya""इंडियन सेक्स स्टोरी""kamukta story"antvasana"odia sex stories""antervasna hindi sexy story""hindi sex kahaniya""indian sex storirs""chodai ki khani hindi me""oggy in hindi""sexy antarvasna"antrvashna"hindi desi sex""hindi sexi kahani"गांड"grup sex"antarvashnaindiansexstories.net"sex stories marathi""saali ki chudai"m.desikahani/net"desi sex kahani""didi sex story hindi""jija sali sex""chudai story""hindi font sex stories""sex khahani hindi""chut ki kahani""mami ko choda""long hindi sex story""hindi cudai ki kahani""सेक्स स्टोरीज""हिंदी सेक्स कहानी"antarbasna"jija ne choda""mastram ki kahani""antarvasna sexstories""porn story in hindi""my hindi sex stories""chut chudai ki kahani hindi me""bus me chudai""sex kahaniya""सैक्स स्टोरी""desi sexstories""free hindi sex store""indian sex blogs""porn story in hindi"indiasexstories"hindi sexystories""sexy indian stories""hindi sex kahani""sex kahaniyan""sexy desi kahaniya""hindi mastram story"indiasex.com