सेक्सी भाभी की चुदाई

सभी चूत की दीवनो को मेरा हेलो! मैं आज आपको एक मस्त देसी चुदाई कहानी बताने जा रहा हु जिसमे मैंने अपने पडोसवाली भाभी को चोदा। आज से दो महीने पहले की बात है मैं अपनी बाईक से बाज़ार जा रहा था, तो मेरे से घर से बाजू वाली संध्या भाभी रास्ते में कही जा रही थी। naukar se chudai

मैंने उससे पूछा, “संध्या भाभी ! चलो मैं तुम्हें छोड़ दूंगा मैं बाज़ार जा रहा हूँ।”

वो भी बाज़ार जा रही थी सो तैयार हो मेरे पीछे बाइक पर बैठ गई .बाज़ार में हमने काफी कपड़े खरीदे.

शोपिंग करने के बाद मैंने उसे कहा “चलो कहीं जूस या काफ़ी पीते हैं।”

उसने कहा, “चलो !” naukar se chudai

सामने के कोफ़ी हाउस में हम पहुंचे।काफी का आर्डर देने के बाद मैंने उससे पूछा कि तुम्हे जल्दी तो घर नहीं जाना है तो वो बोली, “वो तो पन्द्रह दिन के लिए बाहर गए हुए हैं इसलिए कोई जल्दी नहीं है”

मैंने संध्या से कहा, ” तो चलो आज खाना मेरे दोस्त के गेस्ट हाउस में खाते हैं।”

वो तैयार हो गयी।धीरे धीरे हमारी बाते खुलकर होने लगी बातो बातो में उसने बताया मेरे पति मुझे कभी संतुष्ट नहीं कर पाए है।फ़िर
मैं उसको अपने एक दोस्त के गैस्ट हाऊस में ले गया। काफी पीते पीते मैंने दोस्त से कमरे के लिए बात कर ली सो मेरे दोस्त ने मुझे बहुत अच्छा ऐसी कमरा दिया वहा हमने खाना खाकर आराम से कमरे में बेठे थे संध्या उस समय खुबसूरत लग रही थी. ये कहानी आप फ्री हिंदी सेक्स स्टोरीज डॉट नेट पर पढ़ रहे है।

प्यासी बीवी, अधेड़ पति

मैंने कहा, “अब हम दोनों कुछ मज़ा ले” naukar se chudai

वो बोली, “किसी को पता चल गया तो?”

मैंने उसे कहा, “अरे कुछ नहीं होगा, यह मेरे दोस्त का होटल है।”

वो तैयार हो गयी। मैंने उसको धीरे धीरे सहलाना शुरू किया फिर उसके गले में चूमते चुमते बूब को दबा दिया वो सिसकी-ऊह ! फ़िर मैंने उसकी साड़ी धीरे धीरे प्यार से अलग कर दिया। अब उसके बड़े बड़े बूब्स उसके हाफ ब्लाउज़ से अलग ही नजारा दिखा रहे थे।

फिर मैंने अपना टी शर्ट और जींस दोनों उतार दिए और सिर्फ़ अन्डरवीयर में आ गया। अब मैं और अपने होंठों से उसके होंठों पर
चूमना करना शुरू किया, फ़िर गाल पर, गले पर और हर जगह फ़िर मैंने उसके पेटिकोट को उतार दिया और नीचे से हाथ डाल कर उसकी चूत को पैंटी के ऊपर से ही सहलाने लगा।

वो सीत्कार करने लगी, “आह्ह ! आ !” naukar se chudai

फिर अपना दूसरा हाथ से उसकी पैंटी को खींच कर निकाल दिया। अब उसके ब्लाऊज़ के बटन खोल कर उतार दिया और वो ब्रा में आ गयी। मैंने देर ना करते हुए ब्रा भी उतार दी। ओह! क्या बूब्स थे ! बड़े और सख्त !मैं उन्हें मसलने और जोर से दबाने लगा। ये कहानी आप फ्री हिंदी सेक्स स्टोरीज डॉट नेट पर पढ़ रहे है।

मैंने उसके निप्पल को अपनी उंगलियों में लेकर दबाया, वो जोर से सिसकने लगी, “उह उह आह मेरी जान आज मुझे पूरी तरह से
चुदाई का मज़ा दो”

Hindi sex story – बीवियों की अदला बदली करके नंगी चुदाई

मैंने अपना अन्डरवीयर निकाल दिया और अपना लण्ड उसके हाथ में दे दिया। वो मेरे लण्ड को रगड़ने लगी अपने हाथ से। मेरी भी आहें निकलने लगी। और मैंने उसको लन्ड मुंह से चूसने को बोला। उसने मेरे लण्ड को अपने मुंह में ले लिया और मैं 69 पोजीसन होकर उसकी चूत के पास पहुंच गया और फ़िर मैं उसकी चूत जीभ से चाटने लगा मेरी जीभ उसकी चूत में इधर उधर हो रही थी और वो मेरा पूरा लण्ड चूस रही थी।

थोड़ी देर बाद वो बोली, “अब तुम मुझे चोदो अपने लण्ड से, अब मुझसे रहा नहीं जाता!… चोदो मुझे ! चोदो!”

मैं सीधा हुआ और अपना लण्ड उसकी चूत के ऊपर सहलाने लगा। उसकी टाईट चूत को चोदने के लिए मैंने पहला झटका ही जोर से दिया….

वो चिल्लाई, “ओह्ह ! मर गई मैं! दर्द हो रहा है मुझे !”

अभी मेरा आधा लण्ड उसकी चूत में गया था। काफ़ी टाईट चूत थी…फ़िर एक बार फिर जोर के झटके से अपना पूरा लण्ड उसकी चूत में डाल दिया।

वो सिसकी, “आह धीरे धीरे !” naukar se chudai

फ़िर मैं धीरे धीरे अपने लण्ड को आगे पीछे करने लगा। कुछ देर बाद वो अपना दर्द भूल गई थी और मजे लेने लगी.

इधर मैंने अपने झटकों की ताकत बढ़ाई तो वो सीत्कारने लगी,” ओहो! ह्म्म! आ ! जोर से ! और दे धक्के ! ”

मैं और जोर से उसे चोदने लगा। थोड़ी देर बाद वो झड़ गई। उसकी चूत का रस टपकने लगा मुझे और मज़ा आने लगा। उसे भी काफ़ी मज़ा आ रहा था। उसके झड़ने से कमरे में फ़च फ़च की आवाज़ गूंज़ने लगी। थोड़ी देर बाद मुझे लगने लगा कि मैं भी डिस्चार्ज होने वाला हूं, और उसको बेड पर उल्टा कर से कुतिया बना कर पीछे से उसकी चूत में अपना लण्ड घुसाया। ये कहानी आप फ्री हिंदी सेक्स स्टोरीज डॉट नेट पर पढ़ रहे है।

Hindi sex story – इश्क़ और चुदाई

वो सिसकी-,”आह ! ओ! ह्ह” naukar se chudai

फ़िर मैंने पीछे से जोर जोर से धक्के लगाने शुरू किए। उसको बहुत मज़ा आ रहा था.अब मुझे लगा कि मेरा लौड़ा नहीं रुकेगा, मैंने उससे कहा, “मैं अब झड़ने वाला हूं। ”

वो जोर से बोली,” मेरी चूत में ही डालना ”

मैं अपनी पूरी ताकत से उसकी टाईट चूत में झटके लगा और झटके के साथ मैंने अपना पूरा माल उसके चूत में छोड़ दिया. उसने मुझे कसकर जकड लिया अब हम थकगए थे सो हम नंगे ही बेड पे पड़े रहे। फ़िर हम एक घंटे बाद अपने कपड़े पहन कर गेस्ट हाउस से निकल गए, मैंने उसको घर छोड़ दिया…..



"sax storis""स्टोरी सेक्स""marathisex stories"sexbf"desi bahu""onam story""sexy indian stories"antervashna"sexy storys"antarvasn"sex story indian""antervasna hindi""sexy indian stories""kahani chudai ki""desi chudayi""desi sex story in hindi""antarvasna sex stories"sexyxxx"bahu ki chudai""sex sory""भाभी की चुदाई"indiansexstories.net"sex kahani desi""chudai story hindi""antar vasna"kamkutaantarvasana"chudai kahaniya""hindi sex stories/mastram""indian sex storiez""sex stoey""sexy stories hindi"choda"hindi sx story""sex stores hinde""jija sali sex stories""mastram sexstory""sexy story"बेटी"sex with indian""hindisex stories""hindi sex khani"chuthsistersex"handi sexy story""bhabi ko choda""anter vasna"indiansex.netantaravasana"onam story"sexistoryinhindi"चुदाई कहानी""new sex kahani hindi""bhabhi chudai"antravashnaantvasanaindiasexstories"samuhik chudai kahani""sexi khania""indin sex stories""new hindi chudai story""chudai khani""bhabi ki chudai""hot sexy stories"antarwashna"desi mms blog""sasur bahu chudai kahani""desi chudai kahani""antarvasna hindi sex stories""hindi chudai ki kahani""iss stories"jiju"family sex story""रेप सेक्स स्टोरी""hindi sexsi khani""kamukta sex story"hindichudaibhabhikichudaiantarvsanaantarvasna.com"bhabhi ki chudai story""aunty chudai""chudai ki khaniya"desibhabi"mummy ki chudai story""aunty ki chudai hindi sex story""hindi sexi katha""india sex stories"mastram"sex storys in hindi"anki"cudai ki kahani hindi me""इंडियन सेक्स""hindi sex stoey""इंडियन सेक्स स्टोरी""hindi sexy kahaniya""sasur se chudai""new hindi sex stories"